Dabangg 3 Movie Review: Salman Khan & Sonakshi Sinha film

Dabangg 3 Movie Review: Salman Khan & Sonakshi Sinha film

 

Dabangg 3 Movie Review:

तो आईये दोस्तों आज हम Dabangg 3 Movie कि बातें करते हैं | आपको पता होना चाहिए कि Dabangg वो Film है जिसने Salman Khan को चोटी का सितारा बना दिया। Dabangg Film में उनका किरदार चुलबुल पांडे के रूप में होता है | और चुलबुल पांडे जी का यह किरदार लोगो में काफी पसंद किया गया। और इसीलिए 2010 में Film Dabangg की कामयाबी के बाद 2012 में Dabangg 2 बनाई गई | पहली part तो हिट हुई ही और तो और दुसरे part को भी Salman Khan के फैंस ने बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर बना दिया ।

 

और अब 7 साल के बाद इस सीरिज मतलब Salman Khan की Dabangg Series की तीसरी फिल्म आई है Dabangg 3 । आप बात माने या ना माने पर ये बात तो सच है कि इन सात सालों में फिल्मों और दर्शकों की पसंद में बहुत बदलाव आया है | और अब मेरे मन में एक अहम सवाल आ रहा है की क्या अब दर्शक Dabangg जैसी फिल्म देखन पसंद करेंगे ?

 

Dabangg Series की फिल्मों में बस एक ही बातें होती है और वो ये है की चुलबुल बनाम खलनायक की लड़ाई रहती है। कभी यह खलनायक छेदी रहता है तो कभी बच्चा सिंह। अब आप सोच रहे होंगे की Dabangg 3 में चुलबुल की लड़ाई किससे होती है तो मई आपको बता दूँ की Dabangg 3 में चुबुल की लड़ाई बाली सिंह से होती है ।

 

आप माने या ना माने पर ये बात तो सच है की Dabangg 3 की कहानी Salman Khan ने खुद लिखी है। आपको पता है कि Salman Khan के पिता Salim Khan एक मशहूर लेखक रहे हैं और इसीलिए Salman Khan को भी लिखने का शौक चर्राता रहता है।

 

पर इस बार कहानी में एक ट्विस्ट है | कहानी में ट्विस्ट ये दिया गया है कि थोड़ी सी कहानी Dabangg के पहले की है, यानी कि चुलबुल इंस्पेक्टर कैसे बना ? Dabangg 3 में ये अब पहले Dabangg  से भी पहले की बातें अब दिखाई जा रही है | और आपको पता है की रज्जो के पहले भी एक लड़की थी चुलबुल की life में | पता है वो कौन थी ? तो उसका नाम है खुशी |

 

पर दुर्भाग्य तो देखिये चुलबुल की , कि ख़ुशी से जब उसकी शादी नहीं हो पायी तो बाद में रज्जो से हुई है जो की आप Dabangg में देख ही चुके हैं | और थोड़ी कहानी दबंग 2  के भी बाद की है जिसका लिंक दबंग के पहले वाली कहानी से जोड़ा गया है।

 

मतलब अब समझ में आया की Dabangg से पहले की कहानी और Dabangg 2 के बाद की कहानी को जोड़कर एक नयी कहानी बनायीं गयी है जिसको Dabangg 3 में दिखया अगया है | ऐसे ही आईडिया Salman Khan के दिमाग में आता है | पर आपको ये बता दें कि यह आइडिया उम्दा तो है पर इस आइडिए पर लिखी कहानी में कोई नई बात नहीं है।

 

हीरो और विलेन की टक्कर के लिए यहां इस Dabangg 3 फिल्म में कारण तो बहुत बड़ा है परन्तु  इसे जितने जोरदार तरीके से पेश करनी चाहिए था उतने जोरदार तरीके से पेश नहीं किया गया है | और बस इसीलिए दर्शकों को ज्यादा मजा नहीं आया । मतलब ये की चुलबुल बनाम बाली सिंह की लड़ाई में कोई दम नजर नहीं आता है ।

 

वैसे एक बात फिल्म में दर्शको को इमोशनल करती है और वो है  चुलबुल और खुशी की प्रेम कहानी | चुलबुल और खुशी की प्रेम कहानी दर्शको को जरूर अच्छी लगती है और जब वे दोनों एक दुसरे से जुदा होते हैं तो दोनों का जुदा होना दर्शकों को इमोशनल भी करता है।

 

एक अहम बात जो कहानी में दिखाई गयी है जो मुझे समझ में नहीं आ रही है कि जब चुलबुल बाली सिंह को मार देता है तो वह बच कैसे जाता है ? चलो ठीक है अब बाली सिंह बच भी गया तो वो फिर सामने क्यों आ जाता है ?

 

Dabangg 3 फिल्म में बीच-बीच में खूब एक्शन डाला गया है पर ये तो कोई आम इंसान भी बता सकता है की बिना कोई ठोस वजह के कारण एक्शन सीन जमते नहीं है। एक्शन सीन की बात को भी छोड़ो, यहाँ इस फिल्म में तो कॉमेडी भी दाल दिया गया है यार | कॉमेडी सीन भी ऐसे नहीं हैं जिन पर कि लीगो को खूब हंसी आए। इस तरह की बड़ी और मसालेदार फिल्म में इस तरह की कॉमेडी दाल देना इस फिल्म के स्तर के नहीं लगते हैं।

 

स्क्रीनप्ले लिखने वालों (सलमान खान, प्रभुदेवा, दिलीप शुक्ला, आलोक उपाध्याय) ने इस Dabangg 3 फिल्म के कहानी को कॉमेडी और एक्शन के सहारे आगे बढ़ाया है ताकि दर्शकों का दिल बहलता रहे।

 

कॉमेडी कुछ कम देर की भी रहे तो अच है | पर यहाँ पर इस फिल्म Dabangg 3 फिल्म में तो कॉमेडी भी बहुत लंबे हैं और इनमें कोई खास बात भी नजर नहीं आती। और रही बात action सीन की तो  एक्शन सीन भी इतने बड़े स्तर की फिल्म के हिसाब से बेहद कम ही है जिनमें कोई भी सफाई नहीं है।

 

निर्देशक के रूप में प्रभुदेवा ने यह फिल्म पूरी तरह से Dabangg फैंस के लिए बनाई हैं। पर वो कुछ नया नहीं दे पाए। प्रभुदेवा ने पूरे फिल्म में अपना पूरा फोकस सलमान खान पर ही केन्द्रित किया है | सलमान खान का स्टार पॉवर पूरी फिल्म में छाया हुआ है।

 

प्रभुदेवा के हर फ्रेम में सलमान का ही दबदबा नजर आता है। और इसका असर पूरे Dabangg 3 फिल्म पर हुआ है। क्योंकि सलमान खान पर ही केन्द्रित करने की वजह से विलेन बाली सिंह का किरदार दब गया |

 

चलिए अब फिल्म की बात तो हो गयी | और अब हम फिल्म के गाने पर आते हैं | दबंग्ग 3 फिल्म के गाने भी दमदार नहीं हैं। जैसा फिल्म का सिनेमाटोग्राफी थका हुआ है, फिल्म का action औसत है बिलकुल वैसे ही फिल्म का गाना भी दमदार नहीं हैं।

 

रज्जो के रूप में सोनाक्षी सिन्हा अच्‍छी लगी हैं और उनका अभिनय भी काफी बेहतर है। अरबाज खान, प्रमोद खन्ना, डिम्पल कपाड़िया के रोल छोटे हैं और उन्होंने अपना काम ठीक से किया है।

 

कुल मिलाकर अगर बात करें तो दबंग्ग 3, सलमान खान और दबंग सीरिज के फैंस के लिए है। यदि आप भी इस कैटेगरी में हैं तो आपको ये Dabangg 3 फिल्म अच्‍छी लगेगी।

 

Banner : Arbaaz Khan Productions, Salma Khan Films Safron Broadcast

Producer: Arbaaz Khan, Salman Khan, Salma Khan

Director : Prabhudeva

Music : Sajid-Wajid

Writers:  Salman Khan (story), Salman Khan (screenplay)

Cast : Salman Khan, Sonakshi Sinha, Arbaaz Khan ,Warina Hussain, Sudeep, Prabhu Deva, Mahesh Manjrekar, Saiee Manjrekar, Ashwami Manjrekar, Nawab Shah,

Censor Certificate : U/A

Rating : 3/5

 

हम उम्मीद करते हैं की आपको ये Post अच्छी लगी होगी | इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें, Sharing Button पोस्ट के नीचे है | इसके अलावे अगर बीच में कोई भी समस्याएँ आती हैं तो Comment Box में पूछने में जरा सा भी संकोच न करें| हमें आपकी सहायता करके ख़ुशी होगी |

इससे सम्बंधित और भी ढेर सारे पोस्ट मैं आगे लिखता रहूँगा | इसलिए हमारे ब्लॉग “shumahi.com” को अपने मोबाइल या कंप्यूटर में Bookmark (Ctrl + D) करना न भूलें|

अगर ये पोस्ट आपको अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें| आप इसे Facebook या Twitter जैसे सोशल नेट्वर्किंग साइट्स पर शेयर करके इसे और लोगों तक पहुचाने में हमारी मदद करें|

धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: